Home Best Hindi Muhavare पलकें बिछाना मुहावरे का अर्थ | Palke Bichana Muhavre ka Arth

पलकें बिछाना मुहावरे का अर्थ | Palke Bichana Muhavre ka Arth

0
349

पलकें बिछाना मुहावरे का अर्थ | Palke Bichana Muhavre ka Arth

पलकें-बिछाना
पलकें बिछाना

कई बार परीक्षाओ में हिंदी मुहावरों का अर्थ पूछा जाता है, तो इसी कड़ी में हम पलकें बिछाना (Palke Bichana Muhavre ka Arthहिंदी के मुहावरों का अर्थ और उसका वाक्य प्रयोग करना बताएँगे.

पलकें बिछाना मुहावरे का अर्थ –

  • स्वागत करना
  • प्रेम से स्वागत करना
  • प्रेमपूर्वक प्रतीक्षा करना
  • बहुत श्रद्धापूर्वक आदर-सत्कार करना
  • बेचैनी के साथ प्रतीक्षा करना
  • प्रतीक्षा करना

Palke Bichana Muhavre ka Arth –

  • Swagat Karna
  • Prem se Swagat Karna
  • Prempoorvak Prateeksha Karna
  • Bahut Shraddhaapoorvak Aadar-Satkaar Karna
  • Bechainee Ke Saath Prateeksha Karna
  • Prateeksha Karna

पलकें बिछाना मुहावरे का अर्थ in English (Palke Bichana Hindi Idiom Meaning in English) –

  • to welcome
  • warm welcome
  • to wait lovingly
  • to pay obeisance
  • anxiously waiting
  • To Wait

पलकें बिछाना मुहावरे का वाक्य प्रयोग:

वाक्य प्रयोग – भगवान राम के वापस लौटने का पूरे अयोध्यावासी पलके बिछा कर प्रतीक्षा कर रहे थे.

वाक्य प्रयोग – जब से मुझे पता चला है की में नाना मेरे घर आने वाले है, तब से मै उनकी पलके बिछा कर प्रतीक्षा कर रहा हूँ. 

वाक्य प्रयोग – गुलाम भारत को जब पता चला देश मुक्त होने वाला है, तो सभी देशवासी इस खुशखबरी का पलके बिछा कर प्रतीक्षा करने लगे.

“मुहावरा” (idioms) एक अरबी शब्द है, हमारे देश में मुहावरों का प्रयोग करना काफी आम बात है. अपने शब्दों में मुहावरों का प्रयोग करने से आपकी भाषा काफी आकर्षक, प्रभावपूर्ण और रोचक बन जाती है, और आप काफी बड़ी बात कम शब्दों में प्रभावपूर्ण ढंग से कह पाते है. मुहावरों के सही इस्तेमाल से प्रेम, घृणा, ईर्ष्या, हास्य, क्रोध, आदि भावों को सफलतापूर्वक प्रकट किया जा सकता है।

पलकें बिछाना एक बहुत ही प्रसिद्ध मुहावरा (Hindi idioms) है, जिसको आये दिन हम अपनी बोलचाल की भाषा में इस्तेमाल किया करते है. पलकें बिछाना मुहावरे का उपयोग हम तब करते है जब हम किसी इंसान या खुशखबरी का बहुत बेसब्री से इंतजार करते है.

आप लोग भी अपने बोलचाल में मुहावरों का प्रयोग करके, अपनी बातो को सामने वाले के सामने काफी प्रभावी ढंग से रख सकते है.

आज के समय में अगर मुहावरों का कोई सबसे सही तरीके से उपयोग करता है तो वो है नवजोत सिंह सिद्धू  (Navjot Singh Sidhu).

उम्मीद करता हूँ की आपको पलकें बिछाना मुहावरे का अर्थ और उसका वाक्य प्रयोग अच्छे से समझ में आ गया होगा.

अगर आपके कोई सवाल हो तो आप उनको कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है, और ऐसे ही और ज्ञानवर्धक जानकारी के लिए storiespub को Bookmark कर ले, और हो सके तो ये ज्ञान आप अपने दोस्तों और परिवार के साथ social media पर भी साझा करे.

मुहावरे =

दिन दूना रात चौगुना 

अक्ल पर पत्थर पड़ना

आड़े हाथों लेना 

आँखों में धूल झोंकना